Feast of Our Lady of Seven Dolors

Our Lady of Sorrows Ajmer Rajasthan

Our Lady of Sorrows feast day

Our Lady of Sorrows feast day – The Catholic Church celebrates the feast of Our Lady of Sorrows on September 15, the day after the feast of the Holy Cross to show the close connection between Jesus’ Passion and Mary’s Sorrows. … Also to be mentioned are Ambrose, Anselm and Bernard who preached/meditated on Mary’s sorrows.

 

Feast of Saint Joseph अजमेर स्थित सात दुखों के माता चर्च में सेंट जोसेफ का त्यौहार पिता दिवस के रूप में समर्पित किया गया

Feast of Saint Joseph

Feast of Saint Joseph इस अवसर पर चर्च के पल्ली पुरोहित फादर कॉसमॉस शेखावत में विशेष प्रार्थना सभा का आयोजन गिरजाघर में किया तथा पल्ली के सभी पिताओ को गमछा पहनाकर गिरजाघर में स्वागत व अभिनंदन किया तथा उनके लिए पिता ईश्वर से विशेष प्रार्थना व दुआएं मांगी इस अवसर पर सभी पिताओ ने सामूहिक रूप से फादर कॉसमॉस को धन्यवाद दीया ।

अगर कॉसमॉस ने जानकारी देते हुए बताया की सेंट जोसेफ को विश्व भर के गिरजा घरों का संरक्षक संत भी कहा जाता है इसलिए कैथोलिक कलीसिया 19 मार्च को विश्व भर में सेंट जोसेफ का पर्व धूमधाम से मनाती आ रही है कार्यक्रम का संचालन श्री राजेश व लूसी द्वारा किया गया । के समाप्ति के बाद गिरजाघर की समाप्ति के पश्चात सभी को केक वितरित किया गया।

It’s no exaggeration to say that, except for the Blessed Virgin Mary, her blessed spouse St. Joseph is perhaps the most popular saint in the world, which makes sense, given his role as “Patron of the Universal Church.”